मोदी सरकार विशेष वर्ग के कल्याण को समर्पित: कृष्णपाल

001
गुरुग्राम। पहले 7 केटेगरी को दिव्यांग की श्रेणी में मान्यता प्राप्त थी। अब केंद्र की मोदी नेतृत्व वाली सरकार ने इसी श्रेणी में अन्य 14 प्रकार की श्रेणी के दिव्योगों को शामिल किया है। भविष्य में  दिव्यांग की श्रेणी में 21 प्रकार के विशेष वर्ग को मान्यता प्रदान करते हुए इन्हें तमाम संबंधित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। इसके लिए लोकसभा सहित राज्यसभा में बिल पास किया जा चुका है। यह जानकारी केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं आधारिकता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने प्रयुक्ति से बातचीत में जानकारी दी है। वह महाकालेश्वर कल्याण ट्रस्ट के एवं बोहड़ाकला स्थित महाकाल गोसेवा व मानव सेवा सदन के अधिष्ठाता महामंडलेश्वार ज्योति गिरि के पास चंडीगढ़ से लौटते हुए विशेष रूप से आश्रम में पहुंचे थे।
कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि केंद्र सहित सूबे के अलावा बीजेपी शासित राज्यों की सरकारें बिना किसी भेद भाव के जनकल्याण के कार्यो को प्राथमिकता दे रही है। बात चाहे स्वच्छता की हो, कन्या जन्म प्रात्साहन की हो या फिर शिाक्षा व रोजगार की हो। सरकार के द्वारा एेसी नीति व योजनाएं बनाकर लागू की जा रही है कि लोगों को इनका भरपूर लाभ प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि केंद्र व सूबे की सरकार पारदर्शी शासन-प्रशान के लिए वचनबद्ध है और इसी लिए ई गर्वनेंस को ही तरजीह दी जा रही है, जिससे भ्रष्टाचार पर लगाम कसी जाए।
राजनीति से इतर सामाजिक चर्चा
यहां महाकाल आश्रम में महामंडलेश्वार ज्योति गिरि और केंद्र में मंत्री गुर्जर के बीच में राजनीति से इतर सामाजिक मुद्दों को केंद्र में रखकर गहन चर्चा हुई। समाज के हित के लिए कैसी योजनाएं बने व लागू किया जा सकता है कि अधिकाधिक लोगों को इसका लाभ लंबे समय तक मिलता रहे। ज्योति गिरि ने कहा कि समाज हित सहित कल्याण के लिए किए गए कार्य एक प्रकार से ईश्वर की आराधना-पूजा से भी कम नहीं हैं।
गो व मानव सेवा सदन को देखा
सामाजिक न्याय एवं आधारिकता राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने स्वामी ज्योति गिरि के द्वारा स्थापित देश में अपनी तरह की गो सेवा सदन गोशाला का मुआयना करते हुए गहरी रूचि दिखाई। मंत्री को उस वक्त हैरानी हुई कि यहां पर मताम गोधन अपंग, अंधे व दुर्घटना ग्रस्त हैं और इनका बिना स्वार्थ निशुल्क अपचार स्वयं सेवकों सहित स्वयं ज्योति गिरि के द्वारा किया जा रहा है। इस पर अपनी प्रतिक्रिया में कृष्णपाल गुर्जर ने कहा कि, वास्तव में यही जीव सेवा है। इसके बाद में यही पर ही मानव सेवा सदन में उपचाराधाीन लाचार बेबस लोगों से भी मिले। यहां पर मंत्री ने सभी से उनकी बीमारी सहित स्वास्थ्य लाभ के बारे में भी जानकारी ली। इसी बीच एक बुजुर्ग साधु ने कहा कि, स्वामी ज्योति गिरि की कृपा व सेवा से उसे नया जीवन मिला है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *