जसात गुरुकुल की छात्राएं बनी गुरुकुल कबड्डी चेंपियन

गुरुग्राम। पटौदी देहात में स्थित भगवति आर्ष कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात की कबड्डी में पारंगत छात्राओं ने अपनी खेल प्रतिभा का झंडा इस बार सीएम योगी के उत्तर प्रदेश के नोएडा स्थित गुरुकुल सोरखा में आयोजित राष्ट्रीय कन्या गुरुकुल चेंपियनशिप में लहराया है। यह प्रतियोगिता यूपी संस्कृत अकादमी के कराई गई और मुख्य अतिथि अमेटी स्कूल श्रंृखला की चेयरपर्सन अनिता चौहान तथा अध्यक्षता यूपी संस्कृत अकादमी के अध्यक्ष वाचस्पति मिश्रा के द्वारा की गई।
चेंपियन भगवति आर्ष कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात के संचालक डा रविंद्र चौैहान और श्वेता आर्य ने जानकारी देते हुए बताया कि , प्रतियोगिता में देशभर से 16 कन्या गुरुकुल की टीमों ने चेंपियनशिप में भाग लिया। फाइनल मुकाबला भी हरियाणा के ही कन्या गुरुकुल लोहागढ़ बहादुरगढ़ की टीम और भगवति आर्ष कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात की कबड्डी टीमों के बीच में हुआ। विजेता टीम की कप्तान मोनिका, ममता, सीमा, निशा, अंजली, शालू, खुशी, मानसी, हेमलता, रंजना, तान्या और चंचल के द्वारा कबड्डी के मैदान में प्रतिद्वंदी कन्या गुरुकुल लोहागढ़ बहादुरगढ़ की टीम मुकाबले में कहीं भी नहीं टिक सकी। कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात की कबड्डी टीम ने प्रतिद्वंदी कन्या गुरुकुल लोहागढ़ बहादुरगढ़ की टीम को 36 अंक के मुकाबले महज 12 अंक ही लेने दिये और मैच को एक तरफा बनाकर नेशनल कन्या गुरुकुल चेंपियनशिप अपने नाम कर ली।
कन्या गुरुकुल कबड्डी चेंपियन भगवति आर्ष कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात की टीम को प्रतियोगिता की मुख्य अतिथि अमिता चौहान और यूपी संस्कृत अकादमी के अध्यक्ष वाचस्पति मिश्रा ने अपने हाथों से चेंपियन ट्राफी और नकद राशी पुरस्कार में प्रदान करके कन्या कबड्डी खिलाडि$यों का प्रोत्साहन बढ़ाया है। इससे पहले भी जसात गुरुकुल की कबड्डी खिलाड़ी छात्राएं वर्ष 2016 में राष्ट्रीय ग्रामींण खेलकूद प्रतियोगिता में गोल्ड और वर्ष 2017 में सिल्वर मेडल जीत कर अपनी कबड्डी के खेल में पारंगतता का परिचय करवा चुकी है। भगवति आर्ष कन्या गुरुकुल महाविद्यालय जसात की कबड्डी चेंपियन छात्राओं ने गुरुकुल लौटने पर सबसे पहले संस्थापक स्व. जगदीश प्रसाद आर्य और स्व. भगवति देवी आर्य की समाधी पर पहुंचकर पुष्प अर्पित कर आशिर्वाद लिया। सभी विजेता छात्राओं का गुुरुकुल लौटने पर सहपाठी छात्राओं सहित अध्यापकों के द्वारा यादगार स्वागत करते हुए , इसी प्रकार से सफलता अर्जित किये जाने की कामना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *