कूड़ा उठाने के लिए नागरिकों से न लिया जाए शुल्क : शीतल बागड़ी

गुरुग्राम। वार्ड 10 की पार्षद शीतल बागड़ी ने वीरवार को हुई नगर निगम सदन की बैठक में मुद्दा रखा कि इकोग्रीन एनर्जी द्वारा शहर के लोगों से कूड़ा उठाने के लिए जो पैसा लिया जा रहा है उसे बंद किया जाए। यह जनहित से जुड़ा मामला है, आम जनता की राहत का प्रस्ताव है। जनहित में मेरी मांग है कि समस्त पार्षद गण इस प्रस्ताव का समर्थन करें। शीतल ने कहा कि इकोग्रीन ग्रीन एनर्जी द्वारा निगम के साथ हुए समझौते के मुताबिक एक रुपए प्रति किलो के हिसाब से कूड़े का चार्ज निगम से लिया जा रहा है जो आम जनता का ही पैसा है फिर आम लोगों से पैसा लेने का क्या मतलब? यह शहर की जनता पर दोहरी मार है। मेरी मांग है कि इको ग्रीन केवल औद्योगिक इकाइयों से ही शुल्क ले। आम जनता से शुल्क लेना बंद किया जाए। वहीं यह भी सुनिश्चित किया जाए कि इको ग्रीन नियमित रुप से कूड़ा उठाने वाले वाहनों को लोगों के घरों तक भेजें और समय से कूड़ा उठाया जाए अक्सर शिकायतें आ रही हैं कि इकोग्रीन की गाडि$यां लोगों के घरों तक नियमित रुप से नहीं पहुंच रही है लोगों के घरों में कई कई दिन तक कूड़ा पड़ा रहता है। इस समस्या का समाधान किया जाए। हमारी मांग है कि कूड़ा उठाने वाली गाडि$यां लोगों के घरों तक पहुंचे, कई स्थानों पर लोगों को अपने घर के पीछे जाकर कूड़ा गाडि$यों में डालना पड़ता है। कूड़ा उठाने वाले वाहनों के आने का समय निश्चित किया जाए। कूड़ा उठाने वाले वाहनों के चालकों को पहचान पत्र और लाइसेंस जारी किया जाए ताकि उनकी पहचान हो सके। डंपिंग सेंटर से कूड़ा समय से नहीं उठाया जाता है। इसके कारण कूड़ा सड़ता रहता है। इसे समय से उठवाया जाए। शीतल बागड़ी ने इसके अतिरिक्त मांग रखी कि नगर निगम के प्रावधान के मुताबिक हर वार्ड में सामुदायिक भवन की अनिवार्यता को देखते हुए वार्ड 10 के लिए पंजीरी प्लांट की जमीन मेें प्रस्तावित/मुख्यमंत्री द्वारा घोषित सामुदायिक भवन का निर्माण सुनिश्चित किया जाए। जानकारी रहे कि यह सामुदायिक भवन बनाने की स्वीकृति माननीय मुख्यमंत्री ने करीब तीन साल पूर्व दी थी। वार्ड 10 मेें बारिश की पानी की निकासी और जलभराव की समस्या को दूर करने के लिए हमारे द्वारा काफी दिनों से स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज के निर्माण की मांग की जा रही है। इसे शीघ्र बनवाया जाए। वार्ड 10 अन्तर्गत भीमगढ$खेड़ी और लक्ष्मण विहार की पुरानी सीवर लाइनों, जो जाम रहती हंै, जनता द्वारा स्वयं डाली गईं हैं और जो नगर परिषद के दौरान डाली गईं क्षमता से कम हैं, उन्हें बदला जाए। यह लाइनें दो दशक पुरानी हैं और इस समय शहर की आबादी करीब चार गुनी हो चुकी है। सीवर लाइनों की सफाई भी कराई जाए। सूर्य विहार एसटीपी पर प्रस्तावित अंडरग्राउंड टैंक (यूजीटी टैंक) का निर्माण कराने की प्रक्रिया साल भर से लंबित है, इसे पूरा किया जाए। अगर इसका निर्माण शीघ्र नहीं हुआ तो पानी का बहुत बड़ा संकट उत्पन्न हो सकता है। वार्ड 10 के सभी संवेदशील स्थलों पर सुरक्षा की दृष्टिकोण से सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं। इस संबंध में नगर निगम के आयुक्त और मुख्य अभियंता के नाम संबोधित मांग पत्र भी मुख्य अभियंता को सौंपा जा चुका है। यह मांग काफी दिनों से की जा रही है। इस पर तत्काल निर्णय लिया जाए। वार्ड 10 अन्तर्गत लक्ष्मण विहार बस टर्मिनल पर आम लोगों, महिलाओं के लिए टॉयलेट का निर्माण कराया जाए। यह मांग लंबे अर्से से की जा रही है। इसके अभाव में लोगों को खासकर महिलाओं को घोर परेशानियों का सामना करना पड़ता है। बस टर्मिनल में पेयजल की भी व्यवस्था नहीं है। यहां वाटर कूलर लगाया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *