नवरात्रि में भक्तों ने लिया डांडिया डांस का आनंद

गुरूग्राम। डांडिया महोत्सव त्योहारों तथा महोत्सवों की परम्परा को आगे बढ़ाते हुए ,खुशियों के वातावरण तथा सकारात्मकता की सोच को फैलाते हुए,नवरात्रि के आनंद को अनुभव करने के लिए ,गुरुग्राम ग्लोबल हाइट्स विद्यालय में १४ अक्टूबर१८, रविवार को डांडिया महोत्सव का आयोजन किया गया 7 महोत्सव एक अवसर है जिसमे भाग लेना केवल बधाई , दावत और उत्सव मनाना मात्र नहीं बल्कि अपनी मनमोहक प्रस्तुतियों के द्वारा सम्मान प्राप्त करने का मौका भी है। बच्चे , नौजवान , अभिभावक, शिक्षक सभी पारंपरिक परिधानों में उत्सव की मनमोहित सुन्दरता को चार-चाँद लगाते हुए देखे गएँ, नाना प्रकार की गतिविधियाँ , डांडिया की ताल पर थिरकते कदम , टैलंट हंट एंव बेबी शो इस उत्सव के अत्यधिक आकर्षण का केंद्र बनें7 बच्चों की खिलखिलाहट ने वातावरण को और भी आनंदमय बना दिया जो अनेक प्रकार के कार्टून पात्रों को देखकर उनके मुख पर आई थी 7अपनी मनपसंद वस्तुओं जैसे वस्त्र , मेहंदी ,मिट्टी के दिये ,चूडिय़ाँ ,आभूषणों की खरीदारी तथा विभिन्न व्यंजनों का आनंद इस उत्सव पर अभिभावकगण तथा उपस्थितगणने खूब लिया 7 चारों ओर नवरात्रि की पवित्रता तथा आध्यात्मिकता का आत्मस्पर्शी वातावरण अनुभव करते ही बनता था, सभी उपस्थितगण इस वातावरण में मंत्रमुग्ध हुए एंवं डांडिया की ताल पर थिरकने से अपने आप को न रोक पाए। बेबी शो , टैलंट हंट ,डांडिया बीट्स एवम् अन्य गतिविधियों में भाग लेने वालेप्रतिभागियों को प्रदर्शनानुसार पुरस्कारों से सम्मानित किया गया तथा ह्रदय स्पर्शी वचनों से प्रोत्साहित किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में जी.जी.एच.एस.निर्देशक मंडल के सदस्यश्रीमती वंदना टंडन, तथा श्रीमती पूर्णिमा राघव ने आयोजन में उपस्थित होकर इस अवसर की शोभा बढाई तथा सभी प्रतिभागियों की हौंसला अफ्ज़ाही करते हुए कहा कि जितना कठिन संघर्ष होगा जीत उतनी ही शानदार होगी। इसलिए हमें आत्मविश्वास के साथ कड़ी मेहनत करते रहना चाहिए तो निसंदेह सफलता हमारे कदम अवश्य चूमेगी। जी.जी.एच.एस. की निर्देशिका श्रीमती योजना राघव ने विद्यालय की पूरी टीम का उनकी एकता , निष्ठा , उत्साह के साथ कार्य क्रियान्वन के लिए उत्साहवर्धन किया। विद्यालय की उप-प्रधानाचार्या जी श्रीमती भावना छिब्बर ने सभी अतिथिगण तथा उपस्थितगण का अभिनंदन करते हुए कहा कि बालकों की छिपी प्रतिभा तथा आत्मविश्वास को उजागर करना ही इस उत्सव का प्रमुख उद्देश्य था जिसमे हम पूर्णतया स$फल रहें है तथा सभी उपस्थितगण को धन्यवाद तथा आभार प्रकट करते हुए उत्सव का समापन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *