रंगभूमि ओपन एयर थिएटर के मंच पर बीवियों का मदरसा का मंचन

गुरूग्राम। नगर निगम गुरूग्राम के सौजन्य से सैक्टर-29 स्थित रंगभूमि ओपन एयर थिएटर के मंच पर आस्था थिएटर सोसायटी के कलाकारों द्वारा मोलियर द्वारा लिखित नाटक ‘बीवियों का मदरसा’ का मंचन किया गया, जिसका निर्देशन कैलाश जोशी ने किया। नाटक की शुरूआत दो दोस्तों आसिफ और केसर हुसैन से होती है। बातचीत के दौरान आशिफ बताता है कि वह शमा से शादी करना चाहता है। शमा वह लडक़ी है, जिसे आसिफ ने मदरसे में पढ़ाया है। आसिफ कहता है कि शमा बड़ी हो गई है और इसी वजह से उसने उसे दूसरे स्थान पर रखा है और दो नौकर उसकी निगरानी कर रहे हैं। इस तरह केसर को लगता है कि शमा अभी छोटी है और शादी करने के लिए सही नहीं है, लेकिन आसिफ पर कोई असर नहीं पड़ता। आसिफ ने शमा को दूसरे स्थान पर गुप्त रूप से रखा हुआ है, ताकि वह दूसरे लडक़ों से ना मिल पाए, लेकिन वह एक लडक़े हामिद के संपर्क में आ जाती है। हामिद आसिफ के दोस्त का लडक़ा है। इस प्रकार हामिद आसिफ को पराजित करके शमा के साथ विवाह कर लेता है। नाटक में बेमेल विवाह करने की कोशिश को दिखाया गया है। कलाकारों ने अपने अभिनय के माध्यम से दर्शकों को खूब हंसाया तथा तालियां बटौरी। नाटक में आसिफ का किरदार कैलाश जोशी ने, शमा का किरदार अंजलि सिंह ने, जोहरा का किरदार शिखा खान ने, अलखु का किरदार जाखड़ ने, केसर हुसैन का किरदार रविश ने, जफर का किरदार रविश ने, वकील का किरदार शाद ने, अनिश का किरदार अभिनव ने, हामिद का किरदार पंकज ने तथा बुजुरंगा का किरदार श्रुति ने निभाया। मंच का सफल संचालन शिक्षाविद अनिल जेटली द्वारा किया गया। इस मौके पर कलाकारों तथा दर्शकों ने इस प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन के लिए नगर निगम आयुक्त वी. उमाशंकर एवं उनकी पूरी टीम का धन्यवाद किया। दर्शकों ने कहा कि इससे एक ओर जहां कला और संस्कृति के बारे में युवा पीढ़ी को जानकारी मिल रही है, वहीं दूसरी ओर लोगों को बेहतर मनोरंजन नि:शुल्क मिल रहा है। नगर निगम गुरूग्राम इस दिशा में सराहनीय कार्य कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *